जानिए कैसा रहेगा आपका जीवन।
अपने जीवन की भविष्यवाणियां पढ़ें।

जून महीना और ग्रहों का गोचर

"ज्योतिर्विद डी डी शास्त्री"
जय नारायण....ज्योतिष की दृष्टिकोण से जून महीना अत्यधिक महत्वपूर्ण रहने वाला है,क्यूँकि वर्त्तमान परिपेक्ष में यह मास बहुत ही ख़ास हैं,देवगुरु बृहस्पति भी 20 को कुम्भ राशि में वक्री होंगें,न्यायकारक ग्रह शनि की वक्री चाल के मध्य जून के महीने में सूर्य, मंगल,बुध और शुक्र ग्रह अपनी राशि परिवर्तन करेंगे,तथा जून माह में शनि मकर राशि में,राहु वृषभ राशि में और केतु वृश्चिक राशि में गोचर करते हुए सभी राशियों को प्रभावित करेंगे,चंद्रमा लगभग हर सवा दो/ढाई दिन में अपनी चाल बदलते रहते हैं.!

महत्वपूर्ण बदलाव में 20 जून को देवगुरु कुंभ राशि में वक्री होना हैं,यह अगले महीने जून में पड़ने वाले सूर्य ग्रहण के 10 दिन बाद हो रहा है,गुरु ग्रह के कुंभ राशि में वक्री होने से सभी राशियों पर प्रभाव पड़ेगा.! देव गुरु बृहस्पति धन,विवाह,ज्ञान और सत्कर्म के कारक ग्रह हैं,देव गुरु बृहस्पति को सर्वाधिक शुभ एवं शीघ्रफलदाई ग्रह माना गया है,यह धनु व मीन राशि के स्वामी है.!

संवत 2078 के राजा और मंत्री मंगल जैसे ही कर्क राशि में प्रवेश करेंगे और कोरोना महामारी संक्रमण {Covi-19} से लोगों को निजात मिलना आरंभ हो जाएगा,मंगल के साथ सौख्य सम्पदा के करक शुक्र ग्रह लोगों को राहत प्रदान करेंगे,मंगल के राशि परिवर्तन करते ही धीरे धीरे लॉकडाउन समाप्ति की ओर बढ़ेगा तथा सामान्य जनमानस का जनजीवन सामान्य होने लगेगा,जून के महीने में कोरोना महामारी के वैक्सीन में वैज्ञानिकों को सफलता मिलेगी तथा बीमारियों के इलाज में सफलता प्राप्त होगी.!

प्राणिमात्र के जीवन में जो भी घटनाएं घटित होती हैं,उनका जनक ग्रह गोचर होता हैं,सौरमंडल में बैठे ग्रह ही यह निर्धारित करते हैं कि आने वाला समय कैसा होगा और मनुष्य जीवन पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा,जून का महीना ग्रह गोचर के अनुसार शुभता प्रदान करने वाला होगा,ज्योतिषीय गणना और पंचांग के अनुसार जून के महीने में सूर्य,बुध,शुक्र और मंगल ग्रह की राशियों में बदलाव होगा..!

ग्रहों के सेनापति मंगल 02 जून को कर्क राशि में,राजकुमार बुध 03 जून को वृषभ राशि में,ग्रहों के राजा सूर्य 15 जून को मिथुन राशि में सौख्य कारक शुक्र 22 जून को कर्क राशि में प्रवेश करेंगे..!

नोट :- अपनी पत्रिका से सम्वन्धित विस्तृत जानकारी अथवा ज्योतिष,अंकज्योतिष,हस्तरेखा,वास्तु एवं याज्ञिक कर्म हेतु सम्पर्क करें...!